जो जीता हस्तिनापुर विधान सभा सीट उसी पार्टी का मुख्यमंत्री बनेगा उत्तर प्रदेश में


जो जीता हस्तिनापुर विधान सभा सीट उसी पार्टी का मुख्यमंत्री बनेगा उत्तर प्रदेश में

मेरठ जिले में एक हस्तिनापुर विधानसभा सीट है। इस विधानसभा सीट की खास बात यह है कि जिस भी पार्टी का उम्मीदवार इस सीट से जीतता है उसी पार्टी का मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश में बनता हैं यानि साफ कहे तो जिस पार्टी ने हस्तिनापुर जीत लिया उसकी सरकार उत्तर प्रदेश में तय हैं। वैसे तो हस्तिनापुर पाँडवों के बाद अपनी वो छवी खो चुका जो उस वक्त थी। लेकिन भारत के आजाद होने बाद से उत्तर प्रदेश में इस सीट ने एक अलग ही छवी सामने आई।

भारत की आजादी से अब तक इस सीट से जिस पार्टी का उम्मीदवार जीता उसी की सरकार बनी हैं। इसी कारण से हर पार्टी यहाँ अपना उम्मीदवार जरुर खाड़ा करती हैं इस पर यकीन करना कठीन हैं पर सच हैं इस सीट के आकड़े यही बताते हैं एक बार तो 1996 में इस सीट से निर्दलीय उम्मीदवार जीत गया और उत्तर प्रदेश में किसी की सरकार नहीं बनी और राष्ट्रपति शासन लागू हो गया था।
इस सीट के आकड़े निम्न दिया गया हैः-

वर्ष
उम्मीदवार और पार्टी
सरकार
मुख्यमंत्री
2017
दिनेश खात्री, बीजेपी
बीजेपी
योगी आदित्यनाथ
2012
प्रभुदयाल वाल्मिकी, सपा
सपा
अखिलेश यादव
2007
योगेश वर्मा, बीएसपी
बीएसपी
मायावती
2002
प्रभु दयाल, सपा
सपा
मुलायम सिंह यादव
1996
अतुल कुमार, निर्दलीय
राष्ट्रपति शासन
-
1989
झग्गर सिंह, जनता दल
जनता दल
मुलायम सिंह यादव
1985
हरशरण सिंह, कांग्रेस
कांग्रेस
वीर बहादुर सिंह
1980
झग्गर सिंह, कांग्रेस
कांग्रेस
एन डी तिवारी
1977
रेवती शरण मौर्य, जनता पार्टी
जनता पार्टी
राम नरेश यादव
1974
रेवती शरण मौर्य- कांग्रेस
कांग्रेस
हेमावती नंन्दन बहुगुणा
1969
आशाराम इंदू- भारतीय क्रांति दल
भारती क्रांति दल
चौधरी चरण सिंह
1967
आर एल सहायक, कांग्रेस
कांग्रेस
सुचेता कृपलानी
1962
पीतम सिंह, कांग्रेस
कांग्रेस
चंद्र भानू गुप्ता
1957
बीशेम्बर सिंह
कांग्रेस
संपूर्णानंद


Comments